Responsive Image Banner

रविचंद्रन अश्विन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत के दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बने, हरभजन सिंह को पीछे छोड़ा | Ravichandran Ashwin surpasses Harbhajan

Ravichandran Ashwin surpasses Harbhajan: रविचंद्रन अश्विन शनिवार को हरभजन सिंह को पीछे छोड़कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत के दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए। अश्विन ने डोमिनिका में वेस्टइंडीज के खिलाफ चल रही दो मैचों की श्रृंखला के पहले टेस्ट के दौरान यह उपलब्धि हासिल की।

36 वर्षीय स्पिनर ने मैच में कुल 12 विकेट लिए, जिसमें पहली पारी में पांच विकेट और दूसरी पारी में सात विकेट शामिल हैं। उन विकेटों के साथ, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अश्विन के विकेटों की संख्या अब 709 हो गई है, जो हरभजन के पिछले रिकॉर्ड 707 से दो अधिक है।

Ravichandran Ashwin surpasses Harbhajan
Ravichandran Ashwin surpasses Harbhajan

अनिल कुंबले के बाद, जिनके नाम 619 है, अश्विन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 700 या अधिक विकेट लेने वाले केवल दूसरे भारतीय गेंदबाज हैं। वह 8 मौकों पर टेस्ट मैच में 10 या अधिक विकेट लेने वाले एकमात्र भारतीय गेंदबाज भी हैं।

अश्विन की उपलब्धि और भी उल्लेखनीय है क्योंकि वह धीमी गति से गेंदबाजी करने वाले स्पिनर हैं। उन्हें दुनिया भर में विभिन्न परिस्थितियों में खेलने की चुनौतियों से पार पाना पड़ा है और उन्होंने बड़ी सफलता के साथ ऐसा किया है।

अश्विन का भारतीय गेंदबाजी चार्ट में शीर्ष पर पहुंचना उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण का प्रमाण है। वह एक विश्व स्तरीय गेंदबाज है जो अभी भी अपनी शक्तियों के चरम पर है। संभावना है कि वह कुंबले का रिकॉर्ड तोड़ देंगे और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन जाएंगे।

मैच के बाद एक साक्षात्कार में, अश्विन ने कहा कि वह हरभजन के रिकॉर्ड को पार करके “विनम्र” हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उनका ध्यान “भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन जारी रखने पर है”।

अश्विन की उपलब्धि भारतीय क्रिकेट के लिए बड़ी उपलब्धि है। वह उच्चतम स्तर पर एक सिद्ध कलाकार हैं और आने वाले वर्षों में वह भारत के लिए एक प्रमुख खिलाड़ी होंगे।

Leave a Comment